इन्दौर में भगवान महेश की शोभायात्रा व अनेक धार्मिक आयोजन सम्पन्न

इन्दौर में भगवान महेश की शोभायात्रा व अनेक धार्मिक आयोजन सम्पन्न



इन्दौर (म.प्र.)। माहेश्वरी समाज की नगर की सभी संस्थाओं के सहयोग से श्री माहेश्वरी समाज इन्दौर जिला ने महेश नवमी का पांच दिवसीय समारोह बी.डी. तोषनीवाल  विद्यालय व दस्तूर गार्डन पर आयोजित किया। कार्यक्रम के मुख्य अतिथि श्री गिरधर काबरा  उद्योगपति व लीलाधर माहेश्वरी थे तथा सम्मान समारोह के मुख्य अतिथि श्री श्यामसुंदर बिडला अखिल भारतीय माहेश्वरी सेवा सदन पुष्कर थे।
इन्दौर शहर की आठ क्षेत्रों की संस्थाओं ने अलग-अलग कार्यक्रम क्षेत्रों में आयोजित किए। मध्य क्षेत्र ने ग्रुमिंग वर्क शॉप का आयोजन किया। जिसकी कला विशेष कला मंडोवरा व उन्नतिसिंह थी। पूर्वी क्षेत्र व मेघदूत क्षेत्र ने स्वास्थ्य परिचर्चा का आयोजन किया और कैंसर मरीजों को सहयोग राशि के साथ वस्त्र-फल आदि का वितरण किया। इसी के साथ रक्तदान शिविर का आयोजन भी किया गया। स्वास्थ्य शिविर प्रतियोगिता व हेल्थी फुड कार्निवाल का आयोजन संयोगितागंज माहेश्वरी समाज महिला मंडल, युवा संगठन व सखी संगठन के द्वारा किया गया, तो मारवाडी फुड फेस्टिवल नृत्य प्रतियोगिता का आयोजन बालाजी क्षेत्र, अन्नपूर्णा क्षेत्र, दक्षिण क्षेत्र की संस्थाओं द्वारा आयोजित था। इसी प्रकार रांगोली और मेहंदी प्रतियोगिता में बिजासन क्षेत्र की महिलाओं ने प्रतियोगिता आयोजित की। मध्य क्षेत्र महिला मंडल ने मीठे व्यंजन प्रतियोगिता का आयोजन किया।
माहेश्वरी समाज बंधुओं ने जानकीनाथ मंदिर पर भगवान का अभिषेक के पश्चात भव्य प्रभातफेरी जो शहर के विभिन्न मार्गों से होती हुई वापस जानकीनाथ मंदिर पहुंची। शोभायात्रा गौराकुंड चौराहा, शकर बाजार, सराफा बाजार, पीपली बाजार, बर्तन बाजार, बजाज खाना, इतवारिया, नलिया बाखल, शीतलामाता बाजार से जानकीनाथ मंदिर पर पहुंची। शोभा यात्रा का जगह-जगह संगठनों द्वारा स्वागत किया गया। पेय पदार्थ, मेवा, आईस्क्रीम आदि का वितरण किया गया। शोभा यात्रा में हरिकिशन साबू (भोपूजी) के भजनों के साथ बैंडबाजों, घोडा बग्घी में बच्चों को शिव-पार्वती के रूप में सजाया गया था। शोभायात्रा में भगवान महेश का रथ जिसकी जगह-जगह पूजा अर्चना की जा रही थी। जानकीनाथ मंदिर में आरती पश्चात प्रसाद वितरण किया गया। कार्यक्रम के संयोजक बृजमोहन सोमानी, रमेश सी. बाहेती थे।
इसी दिन शाम के वक्त दस्तूर गार्डन में सम्मान समारोह का आयोजन किया गया। मुख्य अतिथि श्री श्यामसुंदर बिडला, पुष्कर सेवा सदन अध्यक्ष थे। विशेष अतिथि सुशीला काबरा राष्ट्रीय अध्यक्ष उपस्थित थी।
मुख्य अतिथि श्री बिडला ने समारोह को सम्बोधित करते हुए कहा कि समाजसेवियों को अपना कुछ समय राष्ट्र सेवा में भी लगाना चाहिए, जिससे राष्ट्र का कल्याण हो। आपने यह भी कहा कि यदि व्यक्ति ने अपने जीवन में समाजसेवा नहीं की तो उसका जीवन व्यर्थ है। अतिथियों का परिचय शैलेष सोढानी, दीप्ति माहेश्वरी, चंद्रमोहन माहेश्वरी ने दिया। कार्यक्रम के सम्मान समारोह में श्री पुरुषोत्तमदास जाखेटिया श्री प्रहलाददास सोमानी का समाज की सेवाओं के बदले उनका सम्मान किया गया। मेधावी छात्रों को भी पुरस्कृत किया गया। इस मौके पर सर्वश्री रंगनाथ न्याती, गिरधारीलाल सारडा, रामेश्वरलाल असावा, लक्ष्मण माहेश्वरी अशोक डागा, घनश्याम झंवर, महेश तोतला, जी.डी. शारदा, ओमप्रकाश पसारी, पुरुषोत्तम पसारी, गीता देवी मून्दडा, कल्याणमल मंत्री, राजेश मुगंड, कमल बाहेती, कमल लङ्ढा, अजय सोडानी, वीणा सोमानी, ज्योति सोमानी, सत्यनारायण बाहेती, बसंत खटोड, किशन मून्दडा, अश्विन लखोटिया, निलेश भूतडा, राजेश सोमानी, कमल बाहेती, दिनेश तापिडया, सत्यनारायण गदिया, प्रहलाद जाखेटिया, बनवारीलाल जाजू, राजेश सोमानी, संतोष साबू, प्रहलाददास लङ्ढा, शांता मंत्री, उषा काबरा, मंजू भलिका, शीला तापिडया आदि वरिष्ठजन व समाज बंधु उपस्थित थे।
कार्यक्रम का संचालन संस्था मंत्री लक्ष्मण माहेश्वरी ने तो आभार प्रेम बाहेती ने माना। समापन के पश्चात लगभग छह हजार समाज बंधुओं ने सहभोज का आनंद लिया।

  इस ख़बर पर अपनी राय दें:
आपकी राय:
नाम:
ई-मेल:
 
   =   
 
ई-मेल रजिस्टर करें

अपनी बात
मतभेद के बीच मनभेद न आने दें...।

मतभेद के बीच मनभेद न आने दें...।